(पंजीकरण) ई-नाम किसान पोर्टल 2022: E Nam Portal | eNam Mandi List

E- NAM app | e-nam pdf | E- NAM states | E- NAM UPSC

eNam Portal :- नमस्कार दोस्तों!!!! आज हम आपके लिए केंद्र सरकार द्वारा राज्य के किसानों के लिए फसलों को लेकर उनकी समस्या को सुलझाने के लिए एक नए पोर्टल की शुरुआत की गई है जिसका नाम (eNam) पोर्टल रखा गया है| enam.gov.in portal राष्ट्रीय कृषि बाजार (इ-नाम) एक पैन इंडिया इलेक्ट्रॉनिक व्यापार पोर्टल है| देश में किसानों को इस योजना से दोगुना मुनाफा होगा| हम आपको यह बता दें कि इस पोर्टल की शुरुआत मोदी सरकार ने अपनी सरकार बनने के गठन से पहले ही कह दिया था| इस पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य किसानों की आय को दुख नहीं करने के लिए राष्ट्रीय कृषि बाजार की स्थापना की गई| पोर्टल के जरिए ऑनलाइन मंडी किसानों के हित के लिए बहुत सारे कार्य करेंगे तथा किसानों की आय को बढ़ाने के लिए ई-नाम / E-NAM पोर्टल की शुरुआत की गई है|

E Nam Portal Registration

हम आपको यह भी बता दें कि इस पोर्टल की शुरुआत राष्ट्रीय कृषि बाजार की स्थापना के समय नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य से की गई है| केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 1.75 करोड़ किसान इस मंडी से जुड़ चुके हैं| किसानों को उनकी फसल को बेचने के लिए एक उचित रकम मिल जाती है जो पूरे देश भर में किसानों को उनकी आय में वृद्धि करने के लिए महत्वपूर्ण कार्य कर रही है| दोस्तों हम आपको यह बता दे! ई-नाम पोर्टल / E-NAM Portal एक इलेक्ट्रॉनिक पोर्टल है| जो पूरे देश में लगभग 585 मंडियों से भी अधिक की मंडियों में अपने नाच या उठाएंगे फसलों को बेचने का बाजार उपलब्ध कराता है| eNam Portal के जरिए पूरे देश में एग्री मार्केटिंग कमेटी को एक नेटवर्क से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है|

Information Table 2022: eNam Portal

पोर्टल का नामE-Nam Portal
लॉन्च किया गया पोर्टलप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा
लाभार्थीदेश के किसान
उद्देश्य2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटenam.gov.in/

What is enam.gov.in portal?

eNam Portal के अंतर्गत नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट के जरिए किसानों को कृषि उत्पादों की अधिकता में सके यह एजेंडा 2022 तक किसानों की आय को दुगनी करने का लक्ष्य केंद्र सरकार द्वारा रखा गया है जिसके लिए सरकार ने किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत राज्य स्तर पर योजनाएं विकसित की गई है| आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में फसलों की खरीद करने के लिए उन्हें मंडियों में बेचना पड़ता है हमारे देश में फसल का उत्पादन तो बहुत अधिक हो रहा है लेकिन सवाल यह है कि इस फसल को बेचे कैसे हालांकि सरकार द्वारा विभिन्न तरह के कार्य किए जा रहे हैं| इसी के चलते हुए राष्ट्रीय कृषि बाजार ने नाम पोर्टल की शुरू कर दिया गया है किसान अपने कृषि उत्पादों को बेचने के लिए इनाम पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं वहां पर किसानों को उनकी फसल का उचित दाम भी प्रदान किया जाएगा और फसल बेचने के बाद से सीधे योग्य उम्मीदवार के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे|

E -Nam Portal का लाभ

  • ई-नाम इलेक्ट्रॉनिक पोर्टल है जिसके तहत 585 को शामिल किया जा चुका है|
  • देश के किसानों को उनकी फसल का सही मुआवजा मिल सके बस इसी एक उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है|
  • eNam पोर्टल की सहायता से किसान और खरीदार के बीच कोई दलाल नहीं रहेगा यानी की सहायता राशि सीधे किसान के बैंक अकाउंट में दी जाएगी|
  • किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य मिल सके तथा किसानों की आय दुगनी हो सके बस इसी एक उद्देश्य से योजना की शुरुआत की गई है|
  • इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से देश के किसान ऑनलाइन आवेदन करके अपनी फसल को ऑनलाइन ही बेच सकते हैं|
  • वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आय दुगनी हो सके इसीलिए केंद्र सरकार द्वारा इस पोर्टल की शुरुआत की गई है|
  • इस enam.gov.in पोर्टल के जरिए आप आलू, सेब, प्याज, मटर, महुआ की दाल, सोयाबीन, मूंगफली, कपास, लाल मिर्च, हल्दी के प्रयोग योगिक उत्पादन की शुरुआत 14 अप्रैल 2016 को 8 राज्यों में 21 मंडियों में की गई है|
  • हरियाणा राज्य की बात करें तो दो मंडियां अंबाला और साहवा को 1 जून 2016 को इनाम पर डाला गया है|
  • देश में बेहतर मूल्य खोज के माध्यम से व्यापार में पारदर्शिता लाई जा सके इसीलिए इ-नाम पोर्टल की शुरुआत की गई है
  • eNam पोर्टल के जरिए देश में खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता की जानकारी भी प्रदान की जाएगी|

ई-नाम Portal की विशेषताएं

There are various questions that may arise in your mind regarding is e-NAM Portal capable of supporting farmers. E-nam platform was launched on April 14 2016 as Pan India Electronic trade portal linking agriculture produce Market Committee across the state. At the time of launch government had claimed that platform would serve as online trading system. The buyers and farmers would both need to register on the platform to buy and sell harvest. The farmer needs to upload details of his produce and a photo of harvest on the platform.

ई-नाम Portal एक राष्ट्रीय कृषि बाजार है जो ऑनलाइन पशुओं की बिक्री का कार्य करता है खरीदार और बेचने के लिए किसान अपने खुद को ऑनलाइन रजिस्टर कर सकते हैं तथा अपनी फसल का उचित दाम प्राप्त कर सकते हैं राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) एक अखिल भारतीय इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग पोर्टल है, जो कृषि उत्पादों के लिए एकीकृत राष्ट्रीय बाजार बनाने हेतु मौजूदा एपीएमसी मंडियों को ऑनलाइन नेटवर्क से जोडता है।लघु कृषक कृषि व्यापार संघ (एसएफएसी) भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत ई-नाम को लागू करने के लिए प्रमुख एजेंसी है।

  • E-Nam पोर्टल की शुरुआत 14 अप्रैल 2016 को की गई थी जिसके तहत रजिस्टर्ड होने पर किसान अपनी उपज का उचित मूल्य प्राप्त कर सकता है|
  • पोर्टल के जरिए किसान अपनी उपज देश में जहां चाहे वहां भेज सकता है|
  • किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए बिचौलियों का सहारा ना लेना पड़े बस इसी उद्देश्य से सरकार द्वारा 585 मंडियों में अपने फसलों को सीधा बेचने की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है|
  • सरकार का मकसद इस साल ई-नाम / E-NAM में 200 और मंडियों को जोड़ने का है साथ ही अगले साल 215 नए मंडी को भी इसमें शामिल किए जा सकते हैं ।
  • हम आपको यह बता दें कि देशभर में अभी करीब ढाई सौ कृषि उपज मंडी और 4000 उप बाजार मौजूद हैं|

पात्रता/ दस्तावेज

  • योजना का लाभ देश के किसान भाई ले सकते हैं|
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

PFMS Scholarship Renewal

e nam Portal ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

जो भी लाभार्थी किसान इस ऑनलाइन पोर्टल के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह नीचे दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करें|

  • योजना का लाभ लेने के लिए आपको सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर आपको जाने के बाद Registration का ऑप्शन दिखाई देगा|
e Nam Portal
  • वहां पर क्लिक करिए आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा|
  • इस पेज पर आपको एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त होगा एप्लीकेशन फॉर्म में सभी जानकारियां ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद उसे भर दीजिए|
e nam Portal
  • इसके साथ आपको अपने जरूरी दस्तावेज आईडी प्रूफ भी स्कैन करके अपलोड करने होंगे|
  • फिर आप सभी जानकारियां भर देने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें|
  • आपने जो भी फॉर्म भरा है उसका प्रिंट आउट आगामी कार्यों के लिए रख लीजिए|
  • पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होने पर, किसान मंडियों में कृषि उत्पादों को बेचने के लिए लॉगिन कर सकता है|
  • ध्यान दीजिए लॉगिन करने के लिए आपको पोर्टल के होम पेज पर जाना होगा|
  • इस तरह होम पेज पर आप Login के ऑप्शन पर क्लिक करिए|
  • वहां पर आप यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चर को डालकर लॉगइन के बटन पर क्लिक करें|

केंद्र सरकार E Nam पोर्टल पर जारी किए गए दिशा-निर्देश?

  • दोस्तों इ-नाम पोर्टल का लाभ लेने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • अब आपको Resoures का ऑप्शन दिखाई देगा|
  • इस ऑप्शन पर आपको Registration Guidelines का ऑप्शन दिखाई देगा|
  • ऑप्शन पर क्लिक करने पर आपको अधिक जानकारी प्रदान कर दी जाएगी|

eNam gov in Mandi List 2022

there are some simple steps that you have to follow, if you wants to know the eNam Mandi List –

  • visit the official website.
  • After that, on the homepage you have to select “eNam Mandis” in the main menu bar.
e Nam
  • New page displayed on your screen.

There are two options –

eNam Portal
  • contact details
  • trading details

if you choose trading details then follow the below procedure –

e Nam login

Now select the following –

  • state name
  • district name
  • Select APMC

Now select the date and click on detailed analysis.

  • if you choose contact details then follow the steps-
e nam Portal

Now select the following

  • state name
  • district name
  • Select APMC

Desired information about eNam Mandis information displayed on your screen.

E – Nam Portal Helpline number

दोस्तों यदि आपको अपनी फसल बेचने में किसी तरह की परेशानी हो रही तो आप E-Nam हेल्पलाइन नंबर पर टोल फ्री कॉल करें अन्य सुविधाओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं|

  • Helpline number – 1800-270-0224
  • Email Id – Nam@sfac.in
  • Official Website – enam.gov.in/web

FAQs at eNam Portal

Who launched eNam Portal?

Central Government of India.

What are the main benefits of enam gov in portal?

complete benefits that farmers can avail on this portal clearly mentioned in above article.

How to avail the benefits of enam gov in portal?

Benefits can be availed through official website.

अंत में दोस्तों आज हमने आपको E-nam पोर्टल की जानकारी दी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले|

Leave a Comment