हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना

(Rs. 7,000) मेरा पानी मेरी विरासत योजना: ऑनलाइन | Mera Pani Meri Virasat Yojana

हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना : – नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए हरियाणा सरकार के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा राज्य के किसानों को पानी की समस्या का समाधान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं| इसी के चलते मुख्यमंत्री जी ने भावी पीढ़ी के लिए पानी उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से” मेरा पानी- मेरी विरासत” योजना की शुरुआत कर दी गई है| Haryana Mera Pani Meri Virasat Yojana के तहत हर सीजन में धान के स्थान पर अन्य किसानों को 7000 प्रति एकड़ की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी|

मेरा पानी- मेरी विरासत योजना शुरू करने का उद्देश्य को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने कहा कि हम अपने आने वाली पीढ़ी को विरासत में पानी लेकर जाएं|ताकि उन्हें जल संकट का सामना ना करना पड़े| बस इसी एक उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है|

Haryana Mera Pani Meri Virasat Yojana

दोस्तों Mera Pani Meri Virasat Yojana के बारे में अधिक जानकारी देते हुए हम आपको बता रहे हैं कि पहले चरण में राज्य के 19 नए ब्लॉक शामिल किए गए हैं जिनमें भूजल की गहराई 40 मीटर से ज्यादा है| इनमें से 8 ब्लॉक में धान की रोपाई ज्यादा है | जिससे पानी की बहुत ही अधिक खपत होती है| मेरा पानी मेरी विरासत योजना का उद्देश्य हम अपने आने वाली पीढ़ी को विरासत में पानी देकर जाएं उन्हें जल संकट का सामना ना करना पड़े | मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किसानों से अपील किया कि धान पानी से तैयार होने वाली फसलें जैसे कि:-(मक्का, अरहर, गवार, तिल, ग्रेशम मूंग अन्य फसलों की बुवाई करें)

हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना
मेरा पानी मेरी विरासत योजना
  • योजना का नाम – मेरा पानी मेरी विरासत योजना
  • शुरू की गई योजना- मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा
  • योजना की शुरुआत – 6 मई 2020
  • उद्देश्य – जल ही जीवन है अभियान
  • अन्य फसल उगाने पर सहायता राशि – 7,000 रुपए
  • लाभार्थी – राज्य के किसान
  • योजना की देखरेख – जल संरक्षण विभाग द्वारा

हरियाणा मेरी फसल – मेरा विरासत योजना को शुरू करने का उद्देश्य

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में हरियाणा ए कृषि प्रधान राज्य है प्रतिवर्ष यहां पर धान की खेती की जाती है| आप सभी जानते होंगे कि धान की खेती करने के लिए पानी की बहुत ही अधिक खपत होती है जिससे राज्य में कई ऐसी जगह हैं जहां पर पानी का जमीनी जलस्तर काफी नीचे चला गया है| जिससे कि आने वाली पीढ़ी के लिए पानी की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है इसलिए मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है जिससे कि पानी को बचाया जा सके और धान की खेती के अलावा अन्य विकल्प खेतिया करने पर लोगों को ₹7000 की राशि प्रदान की जाएगी|

Mera Pani Meri Virasat Yojana विशेषताएं

CM Manohar Lal Khattar says their views on Mera Paani Meri Virasat Scheme

  • जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है योजना का उद्देश्य है कि आने वाली भाभी पीढ़ी के लिए जल संरक्षण करना|
  • Mera Pani Meri Virasat Yojana के तहत धान के स्थान पर अन्य वैकल्पिक फसल होने पर किसानों को 7000 रुपए प्रति एकड़ की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी|
  • जल ही जीवन है के नारे को आगे बढ़ाते हुए हरियाणा सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई है|
  • धान की खेती के अलावा आप मक्का, अरहर, कपास, बाजरा, तिल तथा ग्रीष्म मूंग का इस्तेमाल कर सकते हैं|
  • इसके साथ सरकार ने योजना को शुरू करते हुए ऐलान किया है कि ऐसी पंचायत क्षेत्र के किसानों को नहीं दी जाएगी|
  • मनोहर लाल खट्टर जी ने कहा कि मैं आश्वस्त करता हूं कि सरकार हर कदम किसानों के हित के साथ खड़ी है|
  • धान की फसल उगाने पर यदि किसान micro lrrigation की व्यवस्था करते हैं सरकार की तरफ से 85 अनुदान दिया जाएगा|
  • ऐसे किसान जो एक निश्चित स्थान की खेती करना छोड़ते हैं तो उन्हें के तौर पर 7000 प्रति एकड़ के हिसाब से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी|

मेरा पानी मेरी विरासत योजना पात्रता

हरियाणा सरकार द्वारा राज्य के किसानों को धान की बुवाई न करने पर 7000 रुपए प्रति एकड़ के तहत प्रोत्साहन दिया जाएगा| आप सभी जानते हैं कि हरियाणा सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है जिसका नाम मेरा पानी मेरी विरासत योजना है मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी ने जल संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए इस योजना की शुरुआत की है जैसा कि आप सभी जानते हैं कि धान की बुवाई के लिए बहुत अधिक पानी का इस्तेमाल होता है जिससे राज्य में कई जिलों पर पानी की किल्लत हो गई है धान की खेती छोड़ने से पानी की किल्लत में कमी आएगी तथा ऐसी फसलों का सहारा लिया जाएगा जो कम पानी पर दबा देती हैं|

  • आवेदन करने वाला हरियाणा राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को मिलेगा जो धान की खेती छोड़कर मक्का, मूंग, तेल कपास की खेती करते हैं|
  • Mera Pani Meri Virasat Yojana का उद्देश्य हम अपने आने वाली पीढ़ी को विरासत में पानी देकर जाए ताकि उन्हें जल संकट का सामना ना करना पड़े|
मेरा पानी मेरी विरासत योजना जरूरी दस्तावेज

New Updates:- हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने भावी पीढ़ी के लिए जल संरक्षण करने के उद्देश्य से मेरा पानी मेरी विरासत नामक फसल विविधीकरण योजना कारगर साबित हो रही है. अब तो किसानों ने मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर 1,18,128 हेक्टेयर क्षेत्र का रजिस्ट्रेशन कराया है ताकि वे धान के स्थान पर कम पानी से तैयार होने वाली अन्य फसल की बुवाई कर सकें, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जयप्रकाश दलाल ने इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि योजना के तहत चयनित 8 लोगों में 41 एकड़ से अधिक भूमि पर 41 प्रदर्शन खेत स्थापित किए हैं ताकि किसानों को इस की अधिक से अधिक जानकारी दी जा सके

  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • किसान कार्ड
  • किसान क्रेडिट कार्ड
  • पहचान पत्र

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कांटेक्ट नंबर

मेरा पानी मेरी विरासत योजना ऑनलाइन आवेदन

दोस्तों ध्यान दीजिए इस योजना की शुरुआत 6 मई 2020 को की गई है| यदि आप योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे प्रदान किए गए तरीकों को फॉलो करें|

  • सबसे पहले आपको अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा|
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको ” फसल विविधीकरण के लिए पंजीकरण करें” के ऑप्शन का चुनाव करना|
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा|
  • अब आपको अपना आधार कार्ड नंबर डालना होगा|
  • तथा नेक्स्ट बटन पर क्लिक करें, उसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपको पूछी गई जानकारियों को भरना होगा|
  • सभी जानकारियां ध्यान पूर्वक करने के बाद तथा दस्तावेजों का संकलन करने के बाद, सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा|
  • इस तरह आप आसानी से इस योजना का लाभ ले सकते हैं|

आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न?

  • प्रथम प्रश्न – Mera Pani Meri Virasat Yojana सब्सिडी का प्रावधान?
  • उत्तर – योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार द्वारा अन्य फसल उगाने पर 80% सब्सिडी प्रदान की जाएगी
  • दूसरा प्रश्न – हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना आवेदन कौन कर सकता है?
  • उत्तर – जिस भी जिले में किसान भाई के खेतों का जल स्तर 30 से 40 फीट नीचे चला गया है किसान आवेदन कर सकते हैं|
  • तीसरा प्रश्न – मेरा पानी मेरी विरासत योजना की सहायता राशि?
  • उत्तर – धान की खेती छोड़ने पर 7,000 रुपए सहायता राशि प्रदान की जाएगी|

आज आपको हरियाणा सरकार द्वारा चलाई जा रही मेरा पानी -मेरी विरासत योजना की जानकारी दी|आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य देंगे धन्यवाद

Leave a Comment