(IGMPY) Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2021: ऑनलाइन आवेदन

नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की गरीब परिवारों की महिलाओं के लिए एक नई योजना की शुरुआत की गई है जिसका नाम “Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana” रखा गया है|Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के अंतर्गत यदि किसी गरीब परिवार की महिला दूसरे बच्चे को जन्म देती है तो उसे राजस्थान सरकार द्वारा सहायता राशि के तौर पर 6,000 रुपए बैंक अकाउंट में आर्थिक धनराशि प्रदान की जाएगी|

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से यह बताएंगे कि किस तरह आप Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana का लाभ ले सकते हैं किस तरह आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं अधिक जानकारी के लिए हमारे इसलिए को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए|

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Registration

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

दोस्तों राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई है योजना के तहत पहले 4 जिले जोकि आदिवासी जिले उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा व प्रतापगढ़ में चलाई जा रही है। Indira Gandhi Matritva Poshan योजना के तहत राजस्थान की लगभग 3.75 लाख से अधिक महिलाओं को योजना का लाभ दिया जाएगा|

योजना के तहत योग्य उम्मीदवारों को 6000 रुपए आर्थिक सहायता के तौर पर प्रदान की जाएंगी| राज्य में गरीब परिवार की महिलाओं को बच्चे के रखरखाव तथा रुपए का उपयोग अपने बच्चे के पालन पोषण में कर सके बस इसी एक उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है|

  • योजना का नाम – राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना
  • शुरू की गई योजना – मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा
  • सहायता राशि – 6000 रुपए
  • योजना की शुरुआत – राजस्थान के चार आदिवासी जिलों में
  • कुल बजट – 225 करोड़ रुपए
  • लाभार्थियों की संख्या – 3.75 लाख महिलाएं
  • आवेदन प्रक्रिया – ऑनलाइन/ ऑफलाइन
  • आधिकारिक वेबसाइट – N/A

Indira Gandhi Matritva Poshan Scheme उद्देश्य

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana, का शुभारंभ के अंतर्गत गर्भवती और दूध पिलाने वाली महिलाओं को कुछ शर्तों के अंतर्गत लाभ प्रदान किए जाएंगे जिसका उद्देश्य स्वास्थ्य पोषण की स्थिति में सुधार लाना है| इस योजना के अंतर्गत चुनिंदा जिलों में लाभार्थियों को दो किस्तों में ₹6000 बैंक अथवा डाकघर खातों के जरिए प्रदान किए जाते हैं| पहली किस्त गर्भावस्था के साथ में नौवें महीने के दौरान दी जाती है तो दूसरी किस्त कुछ शर्ते पूरी करने के बाद प्रसूति के 6 महीने बाद दी जाती है| आज हम आपको अपने फ्लैट के माध्यम से बताएंगे कि किस तरह आप इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना कल आप उठा सकते हैं|

दोस्तों राजस्थान राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश का कहना है कि राज्य सरकार इसे अगले 5 वर्षों तक राजस्थान में योजना को जारी रखेगी तथा योजना के तहत दूसरी संतान के जन्म पर ₹6000 की आर्थिक सहायता राशि महिला के बैंक अकाउंट में सीधे जमा की जाएगी| इसके अतिरिक्त राज्य में गरीब महिलाओं को अपने बच्चे के जन्म देने पर उन्हें उचित आहार, पोषक तत्व बच्चे को प्राप्त हो सके| इसके अतिरिक्त राज्य की यह महिलाएं स्वस्थ बच्चों को जन्म दे बस इसी एक उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है|

IGMPY योजना का लाभ

  • इस योजना का लाभ राजस्थान की उन महिलाओं को दिए जाएगा जो दूसरी संतान को जन्म दे रही हैं|
  • सहायता राशि के तौर पर योग्य उम्मीदवार महिला को 6000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी|
  • योजना के लिए आने वाले 5 वर्षों में 225 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है|
  • बाल एवं महिला विकास अधिकारी ममता भूपेश ने बताया कि राज्य सरकार महिलाओं एवं बच्चों को बेहतर स्वास्थ्य उपलब्ध करवाने के लिए इस योजना की शुरुआत करें हैं|
  • राज्य में सभी गरीब परिवार की महिलाएं स्वस्थ बच्चों को जन्म दे इसीलिए इस योजना की शुरुआत की गई है|

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की मुख्य विशेषताएं

New Updates:- राजस्थान सरकार द्वारा अपने राज्य में गर्भवती महिलाओं को भोजन उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की शुरुआत की गई है योजना के जरिए राज्य में दूसरी संतान के जन्म लेने पर महिलाओं को सरकार द्वारा 6000 रुपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी योजना का लाभ और महिलाओं को प्रदान किया जाएगा जो दूसरे संतान को जन्म देंगी.IGMPY योजना के अंतर्गत महिला को दी जाने वाली सहायता राशि उसके बैंक अकाउंट में सीधे जमा की जाएगी. सरकार द्वारा योजना के लिए 5 वर्षों के लिए 225 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है

  • (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana) के अंतर्गत प्रतिवर्ष 75 हजार महिला लाभार्थियों को शामिल कर लगभग 45 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे|
  • योजना का 100% अंशदान राजस्थान सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा|
  • योजना की देखरेख का जिम्मा महिला एवं बाल विकास विभाग राजस्थान को प्रदान किया गया है|
  • (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana) को अभी राजस्थान के 4 जिलों में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर दूसरी संतान के जन्म पर ₹6000 सहायता राशि देने जा रही है|
  • राजस्थान सरकार का नारा” हमारी सरकार निरोगी राजस्थान” के लक्ष्य की दिशा में” स्वस्थ मां स्वस्थ शिशु”

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना पात्रता/ दस्तावेज

  • आवेदन करने वाली महिला राजस्थान की स्थाई निवासी होनी चाहिए|
  • योजना के अंतर्गत केवल दूसरे बच्चे के जन्म पर ही योजना का लाभ दिया जाएगा|
  • इस योजना के अंतर्गत केवल गर्भवती महिलाओं को ही योजना का लाभ मिलेगा|
  • आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

E Dharti Apna Khata Rajasthan: Jamabandi Nakal कैसे देखें

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन

  • सबसे पहले तो हम आपको यह बता दें कि योजना की शुरुआत कुछ दिनों पहले ही हुई है|
  • योजना के लिए अभी तक कोई भी ऑफिशियल वेबसाइट जारी नहीं की गई है|
  • जैसे ही ऑनलाइन आवेदन शुरू होंगे हम आपको एप्लीकेशन फॉर्म प्रदान कर देंगे|
  • अधिक जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट के साथ बने रहे|

अंत में दोस्तों आज हमने आपको इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की जानकारी दी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *