{एप्लीकेशन} पीएम कुसुम योजना (Kusum Yojana) : सौर पंप सब्सिडी | कैसे आवेदन

नमस्कार दोस्तों!!! आज हम आपको केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में चलाई जा रही किसानों के लिए सिंचाई की एक योजना जिसका नाम कुसुम योजना (Kusum Yojana) रखा गया है कि जानकारी अपने इस आर्टिकल में आज हम आपको प्रदान करने जा रहे हैं | जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में किसान सिंचाई करने के लिए डीजल एवं पेट्रोल पंप का इस्तेमाल करते हैं|

जिससे कि प्रदूषण के साथ-साथ उन्हें यह का महंगा भी पड़ता है इसी के चलते केंद्र सरकार द्वारा यह निर्णय किया गया है कि पूरे देश में कुसुम योजना को लागू करके सौर पंप से कृषि योग्य भूमि में सिंचाई की जाएगी | इस योजना के प्रथम चरण में देश में लगभग चल रहे 1.75 लाख पंपों को पेट्रोल एवं डीजल से मुक्त किया जाएगा जबकि 3 करोड़ ने खेती पंप वितरित किए जाएंगे |

About Kusum Yojana

Latest Update “Kusum Yojana”-

कुसुम योजना
PM Kusum Yojana

केंद्र सरकार द्वारा अपने बजट सत्र 2020-21 के लिए कुसुम योजना के अंतर्गत 20 लाभ किसानों को सोलर पंप सेट वितरित करने का निर्णय किया गया है | केंद्र सरकार का कहना है कि kusum yojana के तहत वर्ष 2022 तक उनका लक्ष्य देश में चल रहे 3 करोड़ पेट्रोल एवं डीजल से चलने वाले पंपो को सौर ऊर्जा से चलाना है | कुसुम योजना को शुरू करने का उद्देश्य देश में अक्षय ऊर्जा आधारित बिजली संयंत्रों को अलग-अलग के साथ सहकारी समितियों इस योजना के प्रति केंद्रित किया गया है| जिसके तहत योग्य उम्मीदवारों को सौर पंप वितरित किए जाएंगे | योजना के अंतर्गत केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी के माध्यम से सौर पंप वितरित किए जाएंगे जिसका 50% से भी अधिक का खर्च केंद्र एवं राज्य सरकार उठाएगी |

  • योजना का नाम – पीएम कुसुम योजना
  • योजना की घोषणा – पूर्व वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली
  • उद्देश्य – सब्सिडी पर सौर पंप वितरित करना
  • योजना का क्षेत्र – समस्त भारत
  • आवेदन प्रक्रिया – ऑनलाइन
  • योजना का बजट – 10,000 करोड़ रुपए
  • मंत्रालय – कृषि एवं ऊर्जा मंत्रालय
  • आधिकारिक वेबसाइट – mnre.gov.in/

कुसुम योजना से जुड़ी अन्य जानकारियां

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई कुसुम योजना के तहत सिंचाई के लिए अब उन्हें बिजली के ऊपर निर्भर नहीं रहना होगा क्योंकि सूर्य से मिलने वाली ऊर्जा से अब वह सौर पंप चला सकते हैं इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार का कहना है कि कुसुम योजना के तहत योग्य उम्मीदवारों को केवल 10% का भुगतान करना होगा बाकी रकम केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा उनके बैंक खाते में सब्सिडी के तौर पर प्रदान की जाएगी | कुसुम योजना में बैंक किसानों को लोन पर 30% रकम देगी तो वहीं सरकार द्वारा सब्सिडी पर 60% प्रदान की जाएगी |

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के तहत केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि |

  • उत्तर पूर्वी राज्यों के लिए सहायता राशि – उत्तर पूर्वी राज्य जैसे कि सिक्किम, जम्मू एंड कश्मीर, हिमाचल, उत्तराखंड, अंडमान निकोबार दीप समूह, पर राज्य सरकार द्वारा 30% सब्सिडी जबकि केंद्र सरकार द्वारा 50% सब्सिडी बाकी बची 20% किसान को खुद लेने होंगे |
  • देश के अन्य राज्य – बेंच मार्क लागत या नविता लागत का 30% का c&fa जो भी कम होगा राज्य सरकार को सब्सिडी 30% देनी होगी जबकि बाकी बचे हुए 40% किसानों को खुद देने होंगे |
  • अन्य सहायता राशि – योजना के अंतर्गत एक सौर पंप लगाने के लिए 6.60 लाख रुपए का खर्च आता है जिसमें से 90% कुछ 1 राज्यों में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा दिए जाएगा बाकी किसान को खुद निर्वहन करना होगा |
  • प्रथम चरण – केंद्र सरकार द्वारा पहले चरण में डीजल से चल रहे 17.5 लाख सिंचाई पंपों को शोर पंपों में बदला जाएगा |

बिजली का उत्पादन – सौर पंप की इस योजना से 28,000 मेगावॉट अतिरिक्त बिजली का उत्पादन किसान कर सकेंगे | इस बिजली का उपयोग किसान अपने निजी जीवन में भी कर सकते हैं |

कुसुम सोलर पंप योजना

kusum yojana
कुसुम योजना
  • केंद्र सरकार की इस योजना के अंतर्गत 1 मेगावाट क्षमता का सोलर पैनल साल भर में लगभग 11 लाख यूनिट बिजली पैदा करेगा |
  • kusum yojana के अंतर्गत यदि आप का पंजीकरण हो गया है तो लाभार्थी को 90 से 120 दिनों के भीतर ही सोलर पंप शुरू कर दिया जाएगा
  • किसानों को आय दोगुनी करने की दिशा में केंद्र सरकार द्वारा यह एक महत्वपूर्ण कदम है |
  • 2022 तक सौर पंप ऊर्जा संचालित 17.50 लाख सिंचाई पंप लगाने का लक्ष्य केंद्र सरकार द्वारा रखा गया है |
  • बंजर भूमि पर 2 MW क्षमता के सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए किसानों को दिया जाएगा प्रोत्साहन
  • PM kusum yojana के अंतर्गत केंद्र सरकार प्रदान करेगी 34,422 करोड़ रुपए की सहायता

कुसुम योजना से जुड़ी अन्य विशेषताएं

  • इस योजना का पूरा नाम किसान ऊर्जा सुरक्षा उत्थान महाअभियान (यानी कि कुसुम योजना) है |
  • योजना के अंतर्गत देश के किसानों को कुसुम योजना के कुल लागत का केवल 10 भेज देना होगा |
  • केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को वर्ष 2022 तक पूरे देश में लागू करने का निर्णय किया गया है जिसके तहत 3 करोड़ों को बिजली जल की जगह बदल कर चलाने का लक्ष्य भी रखा गया है |
  • योजना के अंतर्गत प्रथम चरण में चल रहे 17.5 लाख और सिंचाई पंप से चलाया जाएगा |
  • मुफ्त में सिंचाई के लिए बिजली मिलने के अलावा किसान अतिरिक्त बिजली बनाकर ग्रेट को भेज सकेंगे जिससे कि वह आमदनी कमा सकते हैं |

पीएम कुसुम योजना के लाभ

  • इस योजना से पर्यावरण पर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं पड़ेगा योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार का मानना है कि लगभग 27 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड की बचत होगी जोकि इन पंप द्वारा प्रतिवर्ष की जा रही थी |
  • इस सौर पंप से किसान प्रतिवर्ष 80,000 रुपए कमाने का मौका भी दिया जाएग
  • इस योजना से देश में डीजल एवं पेट्रोल पंपों से होने वाले प्रदूषण में कमी आएगी |
  • देश के किसानों को साफ-सुथरी एवं स्वच्छ बिजली मिलेगी |
  • मुफ्त में सिंचाई की सुविधा भी इस योजना से प्रदान होगी |
  • बिजली का उत्पादन कर किसान उसे कंपनी को भेज भी सकते हैं |
  • इस योजना से केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार देश के किसानों को खेती के प्रति प्रेरित करना चाहती है ताकि अधिक से अधिक लोग खेती की तरफ आकर्षित हो |

कुसुम योजना के लिए जरूरी पात्रता (दस्तावेज)

  • पारिवारिक आय प्रमाण पत्र
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • भूमि का विवरण
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट
  • लाभार्थी सिर्फ किसान होना चाहिए

पीएम कुसुम योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

  • देश का हर कोई नागरिक योजना का लाभ ले सकता है योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को नीचे दिए गए हमारी प्रक्रिया को फॉलो करना होगा जिससे कि आप योजना का लाभ ले सकते हैं |
  • kusum yojana का लाभ लेने के लिए आपको सर्वप्रथम कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको कुसुम योजना आवेदन के लिए आवेदन करें पर क्लिक करना है |
  • वहां पर आपको अपनी जुड़ी जानकारियां जैसे कि अपना नाम, स्थाई पता, आधार कार्ड, पासबुक नंबर, मोबाइल नंबर आदि भर नहीं होंगी |
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट बटन पर यानी कि Save पर क्लिक करना है |
  • पंजीकरण के बाद लाभार्थी को सौर पंप की 10% लाभ विभाग द्वारा आपूर्तिकर्ता को देनी होगी |

कुसुम योजना मैं अपना नाम कैसे देखें?

  • कुसुम योजना का नाम देखने के लिए सबसे पहले आपको कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
  • वहां पर आपको नीचे लिस्ट ऑफ रजिस्टर्ड एप्लीकेशन फॉर Kusum के लिए पंजीकृत आवेदनों की सूची पर क्लिक करना है |
  • कुसुम के लिए पंचायत आवेदनों को सूची पर क्लिक करके दूसरा पेज खुल जाएगा |
  • वहां पर आप अपनी State का चयन करें |
  • इसके बाद आप सर्च बटन पर क्लिक करें |
  • इस तरह आप अपना नाम वेबसाइट पर देख सकते हैं |

Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana ~ नए अपडेट | करें आवेदन

कुसुम योजना से जुड़े आपके द्वारा प्रश्न

प्रथम प्रश्न – Pm कुसुम योजना क्या है

उत्तर – पीएम कुसुम योजना एक सौर पंप योजना है जिसके तहत केंद्र सरकार द्वारा सब्सिडी के तौर पर लोगों को कम लागत में सौर पंप वितरित किए जाएंगे |
दूसरा प्रश्न – कुसुम योजना का लाभ कौन-कौन ले सकता है?

उत्तर – प्रधानमंत्री कौशल योजना का लाभ देश का प्रत्येक किसान ले सकता है योजना का लाभ लेने के लिए आपको तय मानदंडों को पूरा करना होगा जिसके तहत आपको योजना का लाभ दिया जाएगा |

Conclusion:- The objective of introducing the kusum yojana is to have renewable power based power plants in the country separately with cooperatives focused on the scheme under which solar pumps will be distributed to qualified candidates. Under the scheme, solar pumps will be distributed through the subsidy by the Central and State Government, more than 50% of which will be borne by the Central and State Government.

दोस्तों आज अपने आप को प्रधानमंत्री kusum yojana की जानकारी दी उम्मीद करते हैं हमारे द्वारा दी हुई जानकारी आपको अवश्य पसंद आई होगी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले

Leave a Comment