[पंजीकरण] हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा 2020: Meri Fasal Mera Byora

Meri Fasal Mera Byora 2020 Registration Open For Dhan Kharid: Haryana government invites the application form for the Kisan panjikaran, farmer registration at fasal.haryana portal. Farmers can register themselves through online. This is a joint collaboration started by Haryana state Agriculture Marketing board and citizen resources information department. Haryana government has taken a recommendable step for farmer welfare. For more details you have to read out the whole Article “Meri Fasal Mera Byora” kindly check below mentioned details.

Updates on 23/10/2020:-

Haryana Meri Fasal Mera Byora

Haryana government has started a joint collaboration with agriculture and farmer welfare department for Meri Fasal Mera Byora. Farmers of Haryana can register at fasal.haryana.gov.in portal. On this web portal state farmers will get complete information regarding MY CROP MY REPORT. And haryana government is going to provide various benefits to the farmers like insurance cover and Production plan. All the farmers are requested to submit their application before the last date of please visit your nearest common service centre.

Meri Fasal Byora के अंतर्गत किसान ऑनलाइन पंजीकरण खेत का ब्यौरा प्राप्त कर सकते हैं | किसानों के लिए यह एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण के लिए अनूठा प्रयास हरियाणा सरकार द्वारा किया गया है|  कृषि संबंधी जानकारियां समय पर उपलब्ध करवाना खाद्य बीज एवं कृषि उपकरण सब्सिडी उपलब्ध करवाना फसल की कटाई का संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाना प्राकृतिक आपदा सहायता दिलाना योजना का एकमात्र उद्देश्य है |

Meri Fasal Mera Byora

Haryana Meri Fasal Mera Byora

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर 5 अक्टूबर से सीमांत किसानों के लिए पंजीकरण दोबारा से शुरू किया जाएगा| तथा हरियाणा सरकार के द्वारा धान की निर्धारित प्रति एकड़ उत्पादकता को 25 क्विंटल से बढ़ाकर 30 क्विंटल तक किया गया है| सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद फसलों की खरीद जोर-शोर से शुरू कर दी गई है| अब तक तमिलनाडु कर्नाटक महाराष्ट्र तेलंगाना और हरियाणा से 14 लाख मैट्रिक टन से अधिक दलहन और तिलहन की खरीद की जा चुकी है| इसके अलावा शनिवार से हरियाणा और पंजाब में खरीद धान की खरीद शुरू हो गई थी|

Haryana Meri fasal Mera byora is a great initiative that started by Haryana Government. Under this scheme government in to provide complete information about agriculture equipment subsidy. In simple word government aims to provide subsidy on agriculture equipment. Under this scheme government aims to provide benefits to the farmers of 07 lakh 26 thousand. In this article you will get complete information about registration procedure and eligibility criteria.

हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने कहा कि किसानों को एक ही जगह पर  सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण की सुविधा देने के लिए सरकार द्वारा शुरू किए गए | पोर्टल मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अब तक 7 लाख 26 हजार से अधिक किसान अपना पंजीकरण करा चुके हैं | हरियाणा सरकार यह भी सुनिश्चित करेगी कि हरियाणा के हर किसान के बाजरे के हर धाम की 1950 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीद होगी यह मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी का कहना है | पंजीकृत किसानों को हरियाणा सरकार की ओर से ₹10 प्रति एकड़ के हिसाब से प्राप्त प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी |

हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा किसानों के लिए एक Meri Fasal Mera Byora की शुरुआत की गई है जिसके अंतर्गत जमीन कितनी बैंक विवरण कपास धन तथा बाजरा सोयाबीन की खरीद ऑनलाइन की जाएगी| Meri Fasal Mera Byora के लिए राज्य सरकार द्वारा हेल्पलाइन नंबर शुरू किया गया है योजना किसान और कृषि मंत्रालय को प्रदान की गई है | Mari Fasal Byora को शुरू करने का एकमात्र मुख्य उद्देश्य राज्य में किसानों को प्राकृतिक आपदाओं तथा अन्य काम जैसे कि बीज एवं कृषि उपकरण खरीदना यह सब जानकारी इस पोर्टल के माध्यम से प्रदान की जाएगी |

Meri Fasal Mera Byora

Meri Fasal Mera Byora Latest Update

Meri Fasal Mera Byora 2020 Today Update: हरियाणा सरकार ने आज से राज्य से बाहर के किसानों के लिए धान की खरीद हेतु मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण खोल दिया गया है| तथा इस निर्णय के बाद अब धान खरीद सीजन के दौरान दूसरे राज्य के किसानों को भी अपनी फसल को बेचने में मदद मिलेगी| Meri Fasal Byora 2020 Registration are now open for dhan kharid. खरीद सीजन के दौरान आज मंडियों में 834000 क्विंटल से ज्यादा धान पहुंचा जिसमें से 48000 क्विंटल से ज्यादा की खरीद की गई| इसके अलावा 56000 क्विंटल से ज्यादा बाजरे में से 4000 क्विंटल से ज्यादा की खरीद की गई है|

Haryana government recently increase the registration last date for Haryana meri Fasal Mera Bora. Any farmer who wants to enroll themselves under meri fasal meri byora scheme. Then they can register themselves below provide guidelines. State Government of Haryana has taken a commendable step to improve the financial condition of farmers.

योजना का नाम  मेरी फसल मेरा ब्यौरा
शुरू की गई योजना  मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा
लाभार्थी  राज्य के किसान
योजना का क्षेत्र  समस्त ( हरियाणा)
हेल्पलाइन नंबर  1800-180-2060
पंजीकरण  ऑनलाइन आवेदन
आधिकारिक वेबसाइट  https://www.fasalhry.in/
योजना की देखरेख  किसान और कृषि मंत्रालय हरियाणा

Meri Fasal Mera Byora का उद्देश्य

हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों के हित में सरकार द्वारा मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण के समय सीमा को बढ़ा दिया गया है| Haryana Meri Fasal Byora, को अन्नदाता खुशहाली हरियाणा सरकार का ध्याय मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर फसल पंजीकरण की तिथि बढ़ाई गई|

Meri Fasal Mera Byora
  • बाजरे के लिए अंतिम तिथि:
  • अन्य खरीफ फसलें:
  • कब तक पोर्टल पर Fasal.haryana.gov.in पर 7.80 Lakh किसानों ने 43,08,000 एकड़ भूमि का पंजीकरण किया गया|

आज हम आपको हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा राज्य के किसानों के लिए चलाई जा रही एक नई योजना जिसका नाम “Meri Fasal Mera Byora” की जानकारी देने जा रहे हैं | जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा राज्य के किसानों को समृद्ध बनाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है जिसके लिए उन्हें एक नारा भी रखा है|जिसका नाम ” समृद्ध किसान- हमारी पहचान” रखा गया है | Meri Fasal Mera Byora में आपको कृषि संबंधित जानकारियां समयबद्ध तरीके से पोर्टल पर उपलब्ध करवाई जाएंगी |

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर आप आज ही न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं| हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों की खरीफ की फसल तैयार होने के बाद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए पंजीयन करवाना होता है| जिसके अंतर्गत सरकार किसानों से मंडी में फंसे खरीदी के लिए पंजीयन करवाती है| हरियाणा सरकार ने राज्य के बाजरा उत्पादक किसानों के हित में अहम निर्णय लेते हुए Meri Fasal Mera Byora Portal पर पंजीकरण करवाने के लिए 20 सितंबर 2020 तक सीमा बढ़ा दी गई है तथा वाड्रा के अतिरिक्त अन्य खरीफ की फसलों के पंजीयन की अंतिम तिथि 25 सितंबर तक बढ़ा दी गई है|

खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2020-21

धान (ग्रेड ए) 1888 रुपए

धान (सामान्य) – 1868 रुपए

बाजरा – 2150 रुपए

ज्वार -2620 रुपये

मक्का- 1850 रुपये

सोयाबीन- 3880 रुपये

अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीयन किस तरह करें को ध्यानपूर्वक पढ़ें|

  • पंजीकरण – Meri Fasal Mera Byora से किसानों का पंजीकरण, फसल का पंजीकरण और खेत का ब्यौरा किया जाएगा |
  • सरकारी सुविधाएं – अब किसानों के लिए एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण के लिए एक अनूठा प्रयास राज्य सरकार द्वारा किया गया है |
  • कृषि संबंधित जानकारियां – इस पोर्टल पर राज्य सरकार द्वारा कृषि संबंधी जानकारियां उपलब्ध करवाई गई हैं |
  • सब्सिडी का प्रावधान – राज्य सरकार द्वारा खाद्य, बीज, एवं कृषि उपकरण सब्सिडी उपलब्ध करवाई जाएगी |
  • बिजाई एवं कटाई – योजना के अंतर्गत फसल का बिजाई  एवं कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारियां भी इसी पोर्टल पर उपलब्ध करवाई जाएंगी |
  • प्राकृतिक आपदा – दोस्तों प्राकृतिक आपदा आ जाने पर किसानों को दी जाने वाली राहत राशि भी इसी पोर्टल पर उपलब्ध करवाई जाएगी |

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के लाभ (Benifits)

  • Meri Fasal Byora से राज्य के किसानों को सब्सिडी प्रदान की जाएगी |
  • योजना के अंतर्गत राज्य में प्राकृतिक आपदा आ जाने पर किसानों को दी जाने वाली राहत राशि भी इस फोटो से उपलब्ध करवाई जाएगी |
  • राज्य के किसानों को अन्य दफ्तरों यानी कि सरकारी दफ्तरों में इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए जाना ना पड़े बस इसी एक उद्देश्य से योजना की शुरुआत की गई है
  • सरकार ने इस योजना के लिए हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत भी की गई है जहां पर आप कॉल करके योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

जरूरी दस्तावेज

New Updates:- मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा 5 जुलाई 2019 को मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की शुरूआत कर दी गई है Meri Fasal Meri Byora का लाभ राज्य के किसानों को फसल का पंजीकरण पेशी संबंधित उपकरण खरीदने के लिए किया जा सकता है योजना के अंतर्गत फसल का विचार एवं कटाई का समय मंडी संबंधित जानकारियां आप सब को इस पोर्टल के जरिए प्रदान कर दी जाएंगी| Meri Fasal Mera Byora को शुरू करने का उद्देश्य राज्य में किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है|

  • आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • बोई गई फसल का नाम
  • खेती करने का क्षेत्र
  • बैंक खाता नंबर
  • मोबाइल नंबर

फ्री साईकल योजना हरियाणा

Meri Fasal Mera Byora 2020 ऑनलाइन पंजीकरण

Meri Fasal Mera Byora की शुरुआत मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा 5 जुलाई 2019 को की गई थी| कोरोना वायरस की महामारी के चलते राज्य सरकार द्वारा राज्य के किसानों को फसल को घर से बेचने की सुविधा भी प्रदान की गई है इस पोर्टल के जरिए आप अपनी फसल को बेचा जा सकता है| अधिक जानकारी के लिए लेख को ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए|

  • Meri Fasal Byora का लाभ लेने के लिए आपको ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपको होम पेज पर ” पंजीकरण” पर क्लिक करना है |

meri fasal mera byora
  • अब आपको वहां पर अपना आधार नंबर मोबाइल नंबर भरना पड़ेगा |
  • फिर आपको वहां पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त होगा |
  • इस पंजीकरण फॉर्म में पहले आपको निम्नलिखित विवरण को भरना होगा फिर आप वहां पर सबमिट बटन पर क्लिक करें |

Meri Fasal Mera Byora FAQs

What is Meri Fasal Mera Byora?

नहीं इस योजना का लाभ केवल हरियाणा राज्य के नागरिकों को ही दिया जाएगा |

Meri Fasal Mera Byora Yojana 2020 online Registration Process?

दोस्तों इस योजना का लाभ लेने के लिए आप अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर आवेदन कर सकते हैं |

Meri Fasal Mera Byora का लाभ किन को मिलेगा?

दोस्तों इस Meri Fasal Mera Byora का लाभ केवल राज्य के किसानों को ही दिया जाएगा |

अंत में दोस्तों आज हमने आपको “हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना” की जानकारी दी उम्मीद करते हैं | आपको यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं | हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *