एमपी भावंतर भुगतान योजना

(सहायता राशि) एमपी भावंतर भुगतान योजना 2021: Bhavantar Bhugtan Yojana

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको मध्य प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रही एक नई योजना की जानकारी आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से प्रदान करने जा रहे हैं इस योजना का नाम भावंतर भुगतान योजना (Bhavantar Bhugtan Yojana) रखा गया है| मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के किसानों को उनकी फसल का सही समर्थन मूल्य प्रदान करने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है योजना की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा की गई है|

Bhavantar Bhugtan Yojana का लाभ राज्य के उन किसानों को मिलेगा जो अपनी फसल बाजार में बेचते हैं| मध्यप्रदेश में यदि किसानों द्वारा खरीफ फसलों को बाजार में न्यूनतम समर्थन मूल्य की तुलना पर कम कीमत पर बेचा जा रहा है तो वह अपने नुकसान को कम करने के लिए (MP Bhavantar Bhugtan Yojana) का लाभ लेकर आवेदन कर सकते हैं| आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से यह बताएंगे कि किस तरह आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं तथा किस तरह आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं अधिक जानकारी के लिए हमारे इस लेख को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए|

Bhavantar Bhugtan Yojana

एमपी भावंतर भुगतान योजना
एमपी भावंतर भुगतान योजना

Important Note – मध्य प्रदेश में COVID-19 महामारी के चलते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस संकट की घड़ी में किसानों ने रिकॉर्ड तोड़ उत्पादन किया है | शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अब तक राज्य में 1 करोड़ 20 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीदी की जा चुकी है मेरे किसान भाइयों आप जरा भी चिंता ना करना आपके गेहूं का एक-एक दाना गाना हम खरीदेंगे|

MP मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी का कहना है Bhavantar Bhugtan Yojana के अंतर्गत योजना का लाभ लेने वाले योग्य किसानों को आवेदन करना होगा| आवेदन करने के लिए आप ई- उपार्जन पोर्टल के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं| (Bhavantar Bhugtan Yojana) के तहत सरकार द्वारा किसानों को दी जाने वाली सहायता राशि उनके बैंक अकाउंट में सीधे जमा कर दी जाएगी|

Information Table Madhya Pradesh Bhavantar Bhugtan Yojana

  • योजना का नाम – भावांतर भरपाई योजना
  • शुरू की गई योजना – मध्य प्रदेश सरकार द्वारा
  • लाभार्थी – राज्य के किसान
  • योजना का क्षेत्र – समस्त मध्य प्रदेश
  • आवेदन प्रक्रिया – ऑनलाइन आवेदन
  • आधिकारिक वेबसाइट –

Madhya Pradesh Bhavantar Bhugtan Yojana उद्देश्य

दोस्तों हम आपको यह बता दे कि मध्य प्रदेश हमारे देश का एक कृषि प्रधान राज्य है इस योजना की शुरुआत पहली बार वर्ष 2019 में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा की गई थी योजना के अंतर्गत मंडी में बिक्री संकट के मामले में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना योजना का एकमात्र मुख्य उद्देश्य है| इसी तरह इस वर्ष भी राज्य सरकार द्वारा फसलों की बिक्री का संकट बना हुआ है जिसके कारण खरीफ फसलों के लिए योजना के अंतर्गत आवेदन शुरू करने का निर्णय राज्य सरकार द्वारा किया गया है ऑनलाइन बुकिंग 28 जुलाई से शुरू होकर 31 अगस्त 2020 तक जारी रहेगी योजना का उद्देश्य राज्य में किसानों को उनकी फसल का सही मूल्य प्राप्त करवाना है तथा राज्य में किसानों को विभिन्न तरह की योजनाओं का लाभ मिल सके उनकी आय में वृद्धि हो सके बस इसी एक उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है|

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा शिवराज सरकार के आते ही प्रदेश में एक बार फिर किसानों के लिए भावांतर भुगतान योजना शुरू हो गई है| सरकार ने तिवाड़ा मिश्र चने की खरीदी पर प्रति क्विंटल ₹500 पर देने का फैसला किया है| अभी तक सवालात मीट्रिक टन चना 4875 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदा जा चुका है| जैसा कि हम सब जानते हैं मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा राज्य के किसानों के लिए बहुत ही सरकारी योजनाओं का शुभारंभ किया गया है| करोना संकट के दौरान किसानों को राहत देने के लिए सरकार ने गेहूं चना मसूर और सरसों की समर्थन मूल्य पर खरीद का काम शुरू किया है| यदि आप भी मध्य प्रदेश भावांतर भुगतान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारे द्वारा प्रदान किए गए इस लेख को अंत तक जरूर पड़े तो पूरी जानकारी प्राप्त करें|

एमपी भावांतर भरपाई योजना विशेषताएं

  • योजना का लाभ केवल मध्य प्रदेश के स्थाई किसान नागरिकों को दिया जाएगा|
  • Bhavantar Bhugtan Yojana In Madhya Pradesh के अंतर्गत किसान अपनी सहायता राशि सीधे बैंक अकाउंट में प्राप्त करेगा|
  • एमपी भावंतर भुगतान योजना को शुरू करने का उद्देश्य बिक्री मूल्य में तथा लाभकारी मूल्य के बीच का अंतर का भुगतान करना है जिसके फलस्वरूप किसानों को किसी तरह का घाटा नहीं उठाना पड़े|
  • राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्राप्त करने वाले किसानों को विभिन्न तरह के लाभ होंगे जिससे कि वह फसलों की बुवाई आसानी से कर पाएंगे|
  • जैसे कि नाम से ही पता चल रहा है भावंतर यानी कि (भाव+ अंतर) का भुगतान होना|
  • जैसा आप सभी जानते हैं कि यदि किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के नीचे से यदि अपनी फसल भेजते हैं तो उन्हें नुकसान उठाना पड़ता है बस इसी नुकसान की भुगतान के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है|

भावांतर भुगतान योजना का लाभ

  • दोस्तों MP Bhavantar Bhugtan Yojana प्रदेश की मंडियों में हितग्राही सम्मेलन दिनांक 15 अक्टूबर को मुख्यमंत्री द्वारा शुभारंभ किया जाएगा|
  • राज्य में किसान भाइयों को उनकी फसलों का उचित मूल्य दिलाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार की यह योजना शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा शुरू की गई है|
  • प्राथमिक कृषि सहकारी समिति केंद्र पर 11 सितंबर से 15 अक्टूबर की अवधि में होगा पंजीकरण|
  • मूंगफली, तिल, मक्का, मूंग, उड़द और अरहर की फसल का होगा निशुल्क पंजीकरण|
  • पंजीकरण के आधार पर मंडी में विविध अवधि में बेची गई फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य एवं मॉडल विक्रय दरों की अंतर राशि का भुगतान किया जाएगा|
  • किसानों के बैंक खातों में अंतर राशि योजना के प्रावधानों अनुसार होगी सहायता राशि
    न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) खरीफ फसल 2020 हेतु

मक्का – 17,00 रुपए प्रति क्विंटल(500 रुपए/ क्विंटल प्लेट भावंतर मिलेगा)

सोयाबीन – 3,399 रुपए प्रति क्विंटल (500 रुपए/ क्विंटल प्लेट भावंतर मिलेगा)

  • तुअर – 5675 रुपए प्रति क्विंटल
  • उड़द – 5,600 रुपए प्रति क्विंटल
  • मूँग- 6,975 रुपए प्रति क्विंटल
  • मूँगफली – 4,890 रुपए प्रति क्विंटल
  • तिल – 5,675 रुपए प्रति क्विंटल
  • रामतिल – 5,877 रुपए प्रति क्विंटलधान – 1750 रुपए प्रति क्विंटल
  • धान ग्रेड ए – 1770 रुपए प्रति क्विंटल
  • ज्वार हाईब्रिड – 2430 रुपए प्रति क्विंटल
  • ज्वार मालडंडी – 2450 रुपए प्रति क्विंटल
  • बाजरा – 1950 रुपए प्रति क्विंटल
  • अरहर – 5675 रुपए प्रति क्विंटल
  • कपास मध्यम रेसा – 5150 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)
  • कपास लंबा रेसा – 5450 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)

Bhavantar Bhugtan Yojana न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) रबी फसल हेतु

भावांतर भुगतान में रबी फसलों का 12 फरवरी से पंजीकरण शुरू

  • सरसों – 4,000 रुपए प्रति क्विंटल
  • प्याज – 8 रुपए प्रति किलो (अनुमानित)
  • तुअर मॉडल रेट = 3860 रु/ कुंतल (1 से 30 अप्रैल 2018 के लिए )
  • गेहूं का समर्थन मूल्य = 2000 रुपए/ क्विंटल
  • लहसुन – 3200 रुपए प्रति क्विंटल (अनुमानित)
  • चना – 4,400 रुपए प्रति क्विंटल
  • मसूर – 4,250 रुपए प्रति क्विंटल

भावांतर भुगतान योजना पात्रता/ दस्तावेज

  • योग्य उम्मीदवार मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • आवेदन करने वाले किसान के पास समग्र आईडी होना अनिवार्य है|
  • आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पट्टा भूमि के मामले में प्राधिकरण का पत्र और मूल भूमि मालिक का ऋण पासबुक
  • बैंक अकाउंट
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना मध्य प्रदेश 2020

मध्य प्रदेश भावांतर भुगतान योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन

यदि आप इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करें:-

  • एमपी भावंतर भुगतान योजना का लाभ लेने के लिए आपको सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • अब आपके सामने होम पेज पर खरीफ 2019-20 का ऑप्शन दिखाई देगा|
  • यदि आप खरीफ की फसल की अधिक जानकारी लेना चाहते हैं तो वहां पर क्लिक कर दें|
  • इसके बाद आपको खरीद उपार्जन वर्ष 2019-2020 हेतु किसान पंजीकरण आवेदन का विकल्प दिखाई देगा वहां पर क्लिक करें|
  • फिर आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा वहां पर आपको जुड़ी जानकारियां बनी होंगी|
  • जरूरी जानकारियां भर देने के बाद कैप्चा कोड भरे और पंजीकरण करें के ऑप्शन पर क्लिक करें|
  • आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा सभी जानकारियां भर दीजिए|
  • अंत में आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दीजिए|

अंत में दोस्तों आज हमने आपको Bhavantar Bhugtan Yojana की जानकारी दी| आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं| हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *